सीएम बनने के बाद ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं. सबसे पहले किसानों के कर्जमाफी से जुड़ी फ़ाइल पर साइन किए : कमलनाथ

0
14

सीएम बनने के बाद से ही कमलनाथ ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं. सबसे पहले किसानों के कर्जमाफी से जुड़ी फ़ाइल पर साइन किए और 2 लाख रुपए तक का किसानों का कर्ज माफ कर दिया.मध्य प्रदेश सीएम कमलनाथ ने बनते ही सबसे पहले किसानों के कर्जमाफी से जुड़ी फ़ाइल पर साइन किए और 2 लाख रुपए तक का किसानों का कर्ज माफ कर दिया. लेकिन यही नहीं, कमलनाथ जब से सीएम बने हैं तब से ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं. आइए आपको दिखाते है कि कैसे कमलनाथ ना केवल धड़ाधड़ फैसले ले रहे हैं बल्कि लगातार बैठकों के ज़रिए प्रशासनिक काम भी कर रहे हैं मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री कमलनाथ का अंदाज़ और तेवर देखकर हर कोई दंग है. कमलनाथ जब से सीएम बने है ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं. आइए आपको बताते हैं 3 दिन में कमलनाथ ने क्या- क्या फैसले लिए है. 17 दिसंबर, 2018 को करीब 3 बजे कमलनाथ ने मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और चंद घंटों में ही पहला फैसला कर लिया. फैसला भी ऐसा जैसे पहली ही बॉल पर कोई सिक्सर मार दे.

3 दिन में लिए कई बड़े फैसले
कमलनाथ का सीएम बनने के बाद 3 दिन का रिपोर्र कार्ड देंखें तो उन्होंने किसानों की कर्ज माफी, निवेश में सब्सिडी के लिए 70% स्थानीय लोगों को रोजगार देना, आशा वर्करों का मानदेय बढ़ाना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि बढ़ाने जैसे निर्णय लिए हैं.

शुरू हुई प्रशासनिक सर्जरी
बुधवार को सीएम कमलनाथ पुलिस मुख्यालय पहुंचे और आला अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था पर चर्चा करने के साथ ही कांग्रेस के वचन पत्र में शामिल पुलिसकर्मियों के लिए वीकली ऑफ पर बात भी की. उन्होंने कहा है कि वो पक्ष में है और डीजीपी इस पर काम शुरु करें. बैठक से कमलनाथ बाहर निकले और साफ कर दिया कि ड्रग्स और सट्टेबाजी पर ज़ीरो टॉलरेंस रखेंगे यही नहीं, सीएम बनने के बाद कमलनाथ ने प्रशासनिक सर्जरी की भी शुरुआत कर दी है. सबसे पहले छिंदवाड़ा एसपी को हटाकर प्रतीक्षा सूची में रखा, रीवा कमिश्नर का तबादला किया और अब छिंदवाड़ा के एएसपी का भी तबादला कर दिया गया है. यही नहीं, बुधवार को कमलनाथ ने कुछ सीनियर आईएएस अफसरों के काम का बंटवारा भी किया. इसके अलावा कमलनाथ ने बड़ा एक्शन लेते हुए राज्य में निगम, मंडल और प्राधिकरण के सभी पदाधिकारियों की नियुक्तियों को निरस्त कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here