लोकसभा चुनाव: 2019 लोकसभा चुनाव में वोटिंग ट्रेंड ऐसा ही रहा तो फिर बीजेपी और मोदी की सत्ता में वापसी

0
16

देश के 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव को 2019 के लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल मना जा रहा था. इन चुनाव में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस ने सत्ता में वापसी की है. ऐसे में अगर 2019 लोकसभा चुनाव में वोटिंग ट्रेंड ऐसा ही रहा तो फिर बीजेपी और मोदी की सत्ता में वापसी की राह मुश्किल हो जाएगी.मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोराम में कुल 83 लोकसभा सीटें है. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने इन राज्यों में बेहतर प्रदर्शन किया था. पांच राज्यों की 83 लोकसभा सीटों में से बीजेपी के पास 63 सीटें हैं. जबकि कांग्रेस को महज 6 और अन्य को 14 सीटों पर जीत हासिल हुई थी देश के पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव नतीजे कांग्रेस के लिए बेहतर तो बीजेपी के खिलाफ थे. इसी तर्ज पर अगर 2019 के लोकसभा चुनाव में भी वोटिंग और नतीजे रहे तो कांग्रेस बीजेपी 63 सीटों से घटकर 23 पर आ जाएगी और कांग्रेस 6 से बढ़कर 40 पर पहुंच जाएगी पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव नतीजे कांग्रेस के लिए बेहतर रहे हैं. जबकि बीजेपी के खिलाफ था. इसी तर्ज पर अगर 2019 के लोकसभा चुनाव में भी वोटिंग और नतीजे रहे तो कांग्रेस बीजेपी 63 सीटों से घटकर 23 पर आ जाएगी और कांग्रेस 6 से बढ़कर 40 पर पहुंच जाएगी. बाकी सीटें अन्य के खाते में जा सकती है.
मध्य प्रदेश: मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस को 114, बीजेपी को 109 और 7 सीटें अन्य को मिली हैं. सूबे में कुल 29 लोकसभा सीटें है. 2014 के चुनाव में बीजेपी को 27 सीटें और कांग्रेस को 2 सीटें मिली थी. विधानसभा चुनाव की तर्ज पर अगर 2019 लोकसभा चुनाव के नतीजे रहे तो कांग्रेस को 16 और बीजेपी 13 सीटें मिल सकती हैं.
छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव 90 सीटों में से कांग्रेस को 68, बीजेपी को 15 और अन्य को 7 सीटें मिली हैं. राज्य में कुल 11 लोकसभा सीटें है. 2014 के चुनाव में बीजेपी ने बीजेपी को 10 और कांग्रेस को 1 सीट मिली थी. विधानसभा चुनाव की तर्ज पर लोकसभा के नतीजे रहे तो कांग्रेस को 9 और बीजेपी व अन्य को 1-1 सीटें मिल सकती है.
मिजोरम:मिजोरम में विधानसभा चुनाव 40 सीटों में से कांग्रेस को 5 और बीजेपी को 1 सीटें मिली है. जबकि एमएनएफ को 29 सीटें मिली है. राज्य में एक लोकसभा सीटें है और वो कांग्रेस के पास है. लेकिन ऐसे ही नतीजे रहे तो कांग्रेस को वो सीट गंवानी पड़ सकती है.
राजस्थान: राजस्थान विधानसभा में 200 सीटें में से 199 पर चुनाव हुए है, जिनमें से कांग्रेस को 99, बीजेपी को 73, बसपा को 6 और अन्य को 18 सीटें मिली है. लोकसभा की 25 सीटें राज्य में हैं. बीजेपी ने 2014 के चुनाव में सभी सीटों पर जीत हासिल की थी. विधानसभा चुनाव के नतीजों को लोकसभा से तुलना की जाए तो कांग्रेस को 12 सीटें मिल सकती है. वहीं, बीजेपी को 9 सीटों से संतोष करना पड़ सकती है. जबकि बाकी सीटें अन्य के खाते में जा सकती है.
तेलंगाना: तेलंगाना में विधानसभा चुनाव 119 सीटों में से कांग्रेस गठबंधन को 21 सीटें, केसीआर को 88, AIMIM को 7 और अन्य को 3 सीटें मिली है. राज्य में 17 लोकसभा सीटें है. 2014 के चुनाव में बीजेपी को 2, कांग्रेस को 2 और टीआरएस को 11 सीटें मिली थी. विधानसभा की तर्ज पर लोकसभा चुनाव के नतीजे रहे तो बीजेपी का खाता भी नहीं खुलेगा. जबकि कांग्रेस को 3 और केसीआर 13 सीटें जीत सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here