एग्जिट पोल पर बोले शिवराज- मैं सबसे बड़ा सर्वेयर, जनता की नब्ज जानता हूं

0
27

एग्जिट पोल में बीजेपी की हार दिखाए जाने पर शिवराज सिंह ने कहा, ‘मैं सबसे बड़ा सर्वेयर हूं. मैं जनता की नब्ज भलीभांति जानते हैं. मैंने मध्य प्रदेश में यात्रा की है और लोगों से मिला हूं. सूबे में बीजेपी एक बार फिर से बहुमत से जीत दर्ज करेगी और सरकार बनाएगी. मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल में हार दिखाए जाने के बावजूद सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी जीत का दम भरा है. उन्होंने खुद को सबसे बड़ा सर्वेयर बताते हुए एक बार फिर से सरकार बनाने का दावा किया है एग्जिट पोल में बीजेपी की हार दिखाए जाने पर शिवराज सिंह ने कहा, ‘मैं सबसे बड़ा सर्वेयर हूं. मैं जनता की नब्ज भलीभांति जानता हूं. मैंने मध्य प्रदेश में यात्रा की है और लोगों से मिला हूं. सूबे में बीजेपी एक बार फिर से बहुमत से जीत दर्ज करेगी और सरकार बनाएगी.’पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के बाद शुक्रवार को कई टीवी चैनलों ने अपने अपने एग्जिट पोल दिखाए, जिसमें कांग्रेस को बढ़त मिलती हुई दिख रही है जबकि बीजेपी को झटका लगता हुआ दिख रहा है. विधानसभा चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे, लेकिन उससे पहले आए एक्जिट पोल में बीजेपी के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं एक्जिट पोल में कांग्रेस को 104 से 122 सीटों पर जीतते हुए दिखाया है, जबकि BJP को 102 से 120 सीटों पर जीत मिलने का अनुमान जताया गया है. राज्य में मुकाबला दोनों राष्ट्रीय पार्टियों के बीच दिख रहा है और अन्य दलों को महज 4 से 11 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है.मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की सत्ता पर काबिज बीजेपी की विदाई होती नजर आ रही है. जबकि कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करती दिख रही है. आपको बता दें कि एग्जिट पोल में मध्य प्रदेश में कांग्रेस को बढ़त लेते दिखाया गया है.

इससे पहले एग्जिट पोल पर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर कुछ बोलने से बचते नजर आए, जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अश्विनी कुमार ने कहा कि पांचों राज्यों में कांग्रेस का ग्राफ बढ़ा और बीजेपी का घटा है. कांग्रेस जीतेगी और बीजेपी हारेगी. उन्होंने कहा कि 11 दिसंबर को जब नतीजे आएंगे, वो चौंकाने वाले होंगे बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को कहा, ‘मैं अभी प्रतिक्रिया नहीं दूंगा, क्योंकि एक्जैक्ट नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे. उसी दौरान चर्चा करना ठीक रहेगा. हमें नतीजों का इंतजार करना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि कई बार ऐसा हुआ है जब एग्जिट पोल के नतीजे पलट गए हैं, इसलिए हमें 11 दिसंबर को आने वाले परिणाम का इंतजार करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here