…तो मुंबई के मालाबार हिल का नाम बदल कर रामनगरी हो जाएगा!

0
18

शिवसेना फिर भगवान राम के नाम का सहारा लेकिन अपनी राजनीतिक ज़मीन को मज़बूत बनाने की कोशिश में जुटी नज़र आती है. बृह्न मुंबई महानगर पालिका (BMC) में शिवसेना के एक नेता ने मुंबई स्थित मालाबार हिल का नाम बदलकर रामनगरी करने की मांग की है बता दें कि मालाबार हिल को मुंबई का वीआईपी इलाका माना जाता है. मालाबार हिल में ही मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत कई वरिष्ठ मंत्रियों, नौकरशाहों और आईपीएस अधिकारियों की रिहाइश है शिवसेना नेता दिलीप लांडे की ओर से मालाबार हिल के नाम को बदल कर रामनगरी करने के प्रस्ताव को BMC में 13 दिसंबर को सुना जाएगा. लांडे को उम्मीद है कि उनके प्रस्ताव को बिना किसी आपत्ति के पास कर दिया जाएगामालाबार हिल को मुंबई का वीआईपी इलाका माना जाता है. मालाबार हिल में ही मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत कई वरिष्ठ मंत्रियों, नौकरशाहों और आईपीएस अधिकारियों की रिहाइश है शिवसेना नेता लांडे ने इंडिया टुडे से कहा, ‘मेरे पास सबूत है कि भगवान श्रीराम और लक्ष्मण लंका जाने के वक्त यहां रुके थे. BMC के पास एक किताब है जिसमें इसका ज़िक्र है. मैं किताब की प्रति को सबूत के तौर पर पेश करूंगा.’लांडे ने आगे कहा, ‘मालाबार हिल ब्रिटिशों का दिया नाम है. अगर राज्य सरकार और केंद्र सरकार कई ब्रिटिश नामों को भारतीय नामों में बदल सकती हैं तो मालाबार हिल का क्यों नहीं बदला जा सकता.’लांडे ने कहा, ‘दूसरी पार्टियों के लोगों को इस प्रस्ताव का विरोध करने दीजिए. हमें पता चल जाएगा कि कितने लोग वास्तव में राम भक्त हैं. मैं आश्वस्त हूं कि प्रस्ताव बिना किसी समस्या के पास हो जाएगा और मालाबार हिल का नाम बदल कर रामनगरी हो जाएगा.’जब लांडे से पूछा गया कि क्या उन्होंने ये कदम शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे की पृष्ठभूमि में उठाया, तो उन्होंने कहा, ‘ये मेरा श्रीराम के प्रति प्रेम है जिसकी वजह से वो ये कर रहे हैं.’ लांडे 2013 में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) में थे तो भी उन्होंने ऐसे ही नाम बदलने का प्रस्ताव किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here